लखनऊ 18 मई 2017, भारतीय जनता पार्टी ने बिजली के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनते देश और प्रदेश में गरीब की झोपड़ी तक निर्वाध बिजली पहुचाने को नए युग का सूत्रपात कराया है। प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा परमाणु उर्जा कार्यक्रम को गति देते हुए 10 रिएक्टरों के निर्माण की मंजूरी और प्रदेश सरकार द्वारा निर्बाध बिजली आपूर्ति का कीर्तिमान बदलते भारत की तस्वीर पेश कर रहा है।

प्रदेश प्रवक्ता डॉ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी का स्वप्न ‘हर हाथ को काम-हर खेत को पानी’ को साकार करने के लिए निर्बाध विद्युतापूर्ति 24ग7 है। बिजली के क्षेत्र में आत्मनिर्भर भारत हो इसके लिए ही मोदी सरकार ने 2021 तक बिजली उत्पादन दो गुना करने का लक्ष्य रखा है। जहां अखिलेश सरकार में पांच जिले बीआईपी थे वहीं प्रदेश सरकार बिजली की दृष्टि से प्रदेश के हर व्यक्ति के आदर्श मान रही है। पॉवर कॉपरेशन के बडे अधिकारियों ने गांव को गोद लेकर निर्बाध बिजली आपूर्ति के ध्येय में जुट गए है। पं0 दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण योजना से 1.60 लाख मजरों का विद्युतीकरण किया जा रहा है। इण्टीग्रेटेड पाॅवर डेपलपमेंट स्किम के अन्तर्गत शहरी क्षेत्रों में विद्युत नेटवर्क सुधार के काम चल रहे है। आगामी दिनों में जनता बिजली कटौती को इतिहास की बातें मानने लगेगी।

डॉ0 चन्द्रमोहन ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि भाजपा सरकार बिजली की निर्बाध आपूर्ति और हर घर में जगमगाहट हो इसी लक्ष्य के साथ आगे बढ़े रही है। बेहतर सुविधाओं के लिए विभाग के पास धन हो इसके लिए विद्युत अधिभार माफी योजना लागू की गई है। इसी प्रकार अवैध तरीके से कटिया, मीटर वाईपास कर बिजली का प्रयोग या अधिभार से अधिक प्रयोग करने वाले के लिए सर्वदा योजना द्वारा स्वघोषणा कर संयोजन नियमित कराने का अवसर दिया गया है।
डा0 चन्द्रमोहन ने कहा कि भाजपा जिस संकल्प के साथ सरकार में आई थी, उन संकल्पों को पूर्ण करने में जी-जान से जुटी है। आने वाला समय बिजली में आत्मनिर्भता और निर्बाधता का होगा। बिजली से उद्योग, व्यापार, बाजार विकसित होंगे साथ ही किसानों की कृषि लागत में भी कमी आयेगी। भारत विकसित होगा, समृद्ध होगा।