IMG_8105

कई सरकारें 50 सालों में एक दो काम ऐसे करती हैं जो ऐतिहासिक होती है लेकिन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने तीन साल में ऐसे 50 काम किये हैं जो ऐतिहासिक हैं

************

तीन साल बाद निर्विवाद रूप से हम यह कह सकते हैं कि श्री नरेन्द्र मोदी आज़ादी के बाद सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री के रूप में उभरे हैं

************

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की राजनीति में से परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण को समाप्त करने में भारतीय जनता पार्टी को सफलता मिली है

************

भारतीय जनता पार्टी सरकार पहले भी उत्तर प्रदेश के साथ खड़ी थी लेकिन हमारी योजनायें सपा सरकार की निष्क्रियता के कारण राज्य की जनता तक पहुँच नहीं पाती थी। आज योगी सरकार गरीब-कल्याण योजनाओं को प्रदेश की जनता तक तत्परता के साथ पहुंचाने में लगी हुई है

************

कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान 13वें वित्त आयोग में केन्द्रीय करों में उत्तर प्रदेश की हिस्सेदारी 28,04,67 करोड़ रुपये थी जबकि मोदी सरकार के समय 14वें वित्त आयोग में यह बढ़कर 71,09,66 करोड़ रुपये हो गई है

************

कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय उत्तर प्रदेश को लोकल बॉडीज ग्रांट के तौर पर केवल 523 करोड़ रुपये मिलते थे जबकि मोदी सरकार ने इसमें 88 गुना की अभूतपूर्व वृद्धि करते हुए 4,60,26 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं

************

कांग्रेस सरकार के समय 13वें वित्त आयोग में यूपी को 24 हजार करोड़ रुपये की अनुदान सहायता प्राप्त हुई थी जिसे मोदी सरकार ने दोगुना बढ़ाकर 48 हजार करोड़ रुपया कर दिया है। केन्द्रीय योजनाओं के लिए उत्तर प्रदेश को 139052 करोड़ रुपये की अतिरिक्त सहायता उपलब्ध कराई गई है

************

मोदी सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश को दी जाने वाली सभी सहायता को यदि जोड़ दिया जाए तो यह यूपीए सरकार की तुलना में लगभग 2.3 गुना ज्यादा है

************

यूपी में भाजपा सरकार बनने के बाद पहली ही कैबिनेट बैठक में किसानों के ऋण माफ़ कर दिए गए, लगभग 38 लाख टन गेहूं की खरीदी अब तक कर हो चुकी है जो एक रिकॉर्ड है

************

गन्ना किसानों के बकाये का 90.68 प्रतिशत का भुगतान किया जा चुका है जो अपने आप में बहुत बड़ी उपलब्धि है, इससे यह स्पष्ट हो गया है कि पहले सपा-बसपा के मिलीभगत के कारण गन्ना किसानों के बकाये का भुगतान नहीं हो पाता था

************

आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में एक ऐसी भ्रष्टाचार मुक्त, पारदर्शी एवं निर्णायक सरकार काम कर रही है जिसपर तीन साल में हमारे विरोधी भी हम पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा पाए

************

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में काले-धन के खिलाफ चरणबद्ध व वैज्ञानिक तरीके से अभियान की शुरुआत की गई और हजारों करोड़ के काले धन ज़ब्त किये गए। आज़ादी के बाद काले-धन पर अंकुश लगाने के लिए इतने बड़े पैमाने पर कदम कभी नहीं उठाये गए

************

कृषि के क्षेत्र में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, स्वायल हेल्थ कार्ड, नीम कोटेड यूरिया, खाद के दाम को कम करना, प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, ई-मंडी जैसी योजनाओं के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आय को दुगुना करने का लक्ष्य रखा है जो अप्रतिम है

************

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यानाथ के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी सरकार के गठन के बाद कई सेक्टरों में व्यापक सुधार देखने को मिल रहे हैं

************

6176721888_167A5976
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने अपने तीन दिवसीय उत्तर प्रदेश प्रवास के तीसरे और अंतिम दिन प्रदेश भाजपा कार्यालय, लखनऊ में एक प्रेस वार्ता को संबोधित किया और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भाजपा सरकार एवं योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की उपलब्धियों पर विस्तार से चर्चा की। विदित हो कि श्री शाह देश के सभी राज्यों में कुल 110 दिनों के अपने विस्तृत प्रवास कार्यक्रम के तहत तीन दिवसीय दौरे पर अभी उत्तर प्रदेश में हैं।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 10 साल तक केंद्र में कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय हर महीने घपले-घोटाले और भ्रष्टाचार के मामले उजागर होते रहते थे, लगभग 12 लाख करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार देश की जनता के सामने आया लेकिन आज देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक ऐसी भ्रष्टाचार मुक्त, पारदर्शी एवं निर्णायक सरकार काम कर रही है जिसपर तीन साल में हमारे विरोधी भी हम पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा पाए। सोनिया-मनमोहन की यूपीए सरकार पॉलिसी पैरालिसिस से ग्रस्त थी, उस यूपीए सरकार का हर मंत्री अपने-आप को प्रधानमंत्री समझता था और प्रधानमंत्री को तो कोई प्रधानमंत्री मानता ही नहीं था। उन्होंने कहा कि कई सरकारें 50 सालों में एक दो काम ऐसे करती हैं जो ऐतिहासिक होती है लेकिन मोदी सरकार ने तीन साल में 50 ऐसे काम किये हैं जो ऐतिहासिक हैं।
श्री शाह ने कहा कि हमें विरासत में एक खस्ताहाल अर्थव्यवस्था मिली थी लेकिन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केवल तीन सालों में भारत दुनिया की सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बनी है। उन्होंने कहा कि आज शेयर बाजार अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर है और हमने अर्थव्यवस्था के सभी मापदंडों पर अच्छी सफलता अर्जित की है।
राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि जब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी सरकार की रचना हुई थी तब प्रधानमंत्री जी ने कहा था कि ये सरकार देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, पीड़ित, शोषित और वंचितों की सरकार होगी और इन तीन वर्षों में मोदी सरकार ने इसे अक्षरशः सिद्ध करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के माध्यम से देश के पांच करोड़ गरीब माताओं के घरों में गैस सिलिंडर पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया जिसमें से 2.5 से अधिक गैस कनेक्शन के वितरण का काम पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि साढ़े चार करोड़ से अधिक शौचालय का निर्माण कर महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है, 28.5 करोड़ से अधिक लोगों के बैंक अकाउंट खोल कर उन्हें देश के अर्थतंत्र की मुख्यधारा में जोड़ा गया है और उन्हें सामाजिक सुरक्षा कवच भी प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से देश के 7.64 करोड़ लोगों को आसान शर्तों पर ऋण उपलब्ध कराये गए हैं। उन्होंने कहा कि जीएसटी के माध्यम से ‘एक राष्ट्र, एक कर’ का स्वप्न साकार करने का काम किया गया है। उन्होंने कहा कि आज़ादी के 70 साल बाद भी बिजली से वंचित 18 हजार से अधिक गाँवों में से लगभग 13 हजार गाँवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया गया है और मई 2018 तक बाकी बचे गाँवों में भी बिजली पहुंचाने का कार्य पूरा कर लिया जाएगा।
श्री शाह ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के जरिये प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया भर में भारत को एक मजबूत राष्ट्र के रूप में पहचान दिलाई है। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के निर्णय के साथ प्रधानमंत्री जी ने पूरी दुनिया को यह संदेश दिया है कि हम हमारी सीमाओं की सुरक्षा के लिए गंभीर भी हैं, जागरूक भी हैं और अपनी आत्मरक्षा के लिए कोई भी कदम उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने एक साल में ही 40 वर्षों से लंबित ‘वन रैंक, वन पेंशन’ को लागू कर के देश के भूतपूर्व सैनिकों को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया है। उन्होंने कहा कि ‘ओबीसी कमीशन’ को संवैधानिक मान्यता देकर मोदी सरकार देश के ओबीसी वर्ग को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया है। उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष में एक साथ 104 सैटेलाईट लॉन्च करके भारत ने अपने आपको अंतरिक्ष विकास के क्षेत्र में एक ग्लोबल लीडर के रूप में प्रतिष्ठित किया है। उन्होंने कहा कि योग दिवस के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश की सभ्यता और संस्कृति को अंतर्राष्ट्रीय स्वीकृति दिलाने का कार्य किया है।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में काले-धन के खिलाफ चरणबद्ध व वैज्ञानिक तरीके से अभियान की शुरुआत की गई। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने पहली ही कैबिनेट बैठक में काले-धन के खिलाफ एसआईटी गठित करने का निर्णय लिया, फिर काले-धन के सिंगापुर-मॉरीशस रूट को बंद किया गया, इसके बाद ओपन डिक्लेरेशन स्कीम लॉन्च की गई, सेल कंपनियों के खिलाफ अंकुश लगाया गया और इसके पश्चात् बेनामी संपत्ति क़ानून को अमल में लाकर काले-धन पर ज़ोरदार प्रहार किया गया। उन्होंने कहा कि चुनाव को काले-धन के गिरफ़्त से छुड़ाने के लिए राजनीतिक दलों द्वारा कैश में लिए जाने वाले चंदे की सीमा को घटाकर 2000 रुपये कर दिया गया। उन्होंने कहा कि आज़ादी के बाद काले-धन पर अंकुश लगाने के लिए इतने बड़े पैमाने पर वैज्ञानिक तरीके से कदम कभी उठाये नहीं गए।
श्री शाह ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, स्वायल हेल्थ कार्ड, नीम कोटेड यूरिया, खाद के दाम को कम करना, प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, ई-मंडी जैसी योजनाओं के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आय को दुगुना करने का लक्ष्य रखा है जो अप्रतिम है। उन्होंने कहा कि स्टैंट के दाम कम किये जाने और जेनेरिक दवाओं के माध्यम से देश के करोड़ों गरीबों के लिए स्वास्थ्य लाभ लेना आसान हुआ है।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार पहले भी उत्तर प्रदेश के साथ खड़ी थी लेकिन हमारी योजनायें सपा सरकार की निष्क्रियता के कारण राज्य की जनता तक पहुँच नहीं पाती थी। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार मोदी सरकार की गरीब-कल्याण योजनाओं को प्रदेश के गरीब से गरीब व्यक्ति तक तत्परता के साथ पहुंचाने में लगी हुई है।
श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने उत्तर प्रदेश के विकास के लिए कई कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान 13वें वित्त आयोग में केन्द्रीय करों में उत्तर प्रदेश की हिस्सेदारी 28,04,67 करोड़ रुपये थी जबकि मोदी सरकार के समय 14वें वित्त आयोग में यह बढ़कर 71,09,66 करोड़ रुपये हो गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय 13वें वित्त आयोग में यूपी को 24 हजार करोड़ रुपये की अनुदान सहायता प्राप्त हुई थी जिसे मोदी सरकार ने दोगुना बढ़ाकर 48 हजार करोड़ रुपया कर दिया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने स्टेट डिजास्टर रिलीफ फंड में भी वृद्धि करते हुए 1597 करोड़ रुपये की तुलना में 2797 करोड़ रुपये आवंटित किये। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय उत्तर प्रदेश को लोकल बॉडीज ग्रांट के तौर पर केवल 523 करोड़ रुपये मिलते थे जबकि मोदी सरकार ने इसमें 88 गुना की अभूतपूर्व वृद्धि करते हुए 4,60,26 करोड़ रुपये आवंटित करने का काम किया। उन्होंने कहा कि केवल इन चारों विभागों में ही उत्तर प्रदेश को 8,07,7 89 करोड़ रुपये दिए गए जो कांग्रेस सरकार की तुलना में लगभग ढाई गुना है।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यूपी में केन्द्रीय योजनाओं की बात करें तो मुद्रा योजना में प्रदेश के 72 लाख लाभार्थियों को आसान शर्तों में ऋण उपलब्ध कराये गए, स्मार्ट सिटी में अब तक 571 करोड़ रुपये आवंटित किये गए, अमृत मिशन के लिए 11521 करोड़, गोरखपुर में यूरिया प्लांट के लिए 6000 करोड़, आठ हाइवे के लिए 8000 करोड़, स्वच्छ भारत अभियान के लिए 168 करोड़, बनारस ट्रौमा सेंटर के लिए 150 करोड़, इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट के लिए 617 करोड़, रेल विकास के लिए 36 हजार करोड़, नमामि गंगे के लिए 3668 करोड़, गंगा सीवरेज के लिए 7600 करोड़, लखनऊ मेट्रो के लिए 6880 करोड़, नेशनल वाटर मिशन के लिए 169 करोड़, एकलव्य रेजिडेंशियल स्कूल के लिए 700 करोड़, बॉर्डर एरिया डेवलपमेंट प्लान के लिए 136 करोड़, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए 2100 करोड़ और आवास योजना, सिंचाई सुविधा एवं बाढ़ प्रबंधन योजनाओं में भी करोड़ों रुपये आवंटित किये गए हैं। उन्होंने कहा कि यदि इन योजनाओं में दी गई राशि को जोड़ दिया जाय तो यह कुल मिला कर 139052 करोड़ रुपये होती है जो केन्द्रीय सहायता के अतिरिक्त है।
श्री शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में साढ़े चार करोड़ जन-धन खाते खोले गए, 25 करोड़ एलईडी बल्ब वितरित किये गए, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत 59 लाख गैस कनेक्शन वितरित किये गए, उज्जवल डिस्कॉम योजना के अंतर्गत यूपी को 33 हजार करोड़ रुपये और दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं में उत्तर प्रदेश को दी जाने वाली सहायता को जोड़ दिया जाय तो यह यूपीए सरकार की तुलना में लगभग 2.3 गुना ज्यादा है।
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यानाथ के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी सरकार के गठन के बाद कई सेक्टरों में व्यापक सुधार देखने को मिल रहे हैं।उन्होंने कहा कि यूपी में भाजपा सरकार बनने के बाद पहली ही कैबिनेट बैठक में किसानों के ऋण माफ़ कर दिए गए, लगभग 38 लाख टन गेहूं की खरीदी अब तक कर ली गई है जो एक रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों के बकाये का 90.68 प्रतिशत का भुगतान किया जा चुका है जो अपने आप में बहुत बड़ी उपलब्धि है, इससे यह स्पष्ट हो गया है कि पहले सपा-बसपा के मिलीभगत के कारण गन्ना किसानों के बकाये का भुगतान नहीं हो पाता था। उन्होंने कहा कि बिजली और सिंचाई के क्षेत्र में काफी सुधार आया है। उन्होंने कहा कि सभी क्षेत्रों में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बहुत अच्छा काम कर रही है।
श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया में भारत और देशवासियों के मान-सम्मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि तीन साल बाद निर्विवाद रूप से हम कह सकते हैं कि श्री नरेन्द्र मोदी आज़ादी के बाद के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री बन कर उभरे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की राजनीति में से परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण को समाप्त करने में भारतीय जनता पार्टी को सफलता मिली है।