लखनऊ 16 जून 2017, भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती जी द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के सहभोज पर दी गई प्रतिक्रिया बौखलाहट और कुंठाओं का परिचायक है।
भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता डॉ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि आज देश व प्रदेश में ‘‘सबका साथ-सबका विकास‘‘ हकीकत में बदल रहा है। केन्द्र सरकार द्वारा बाबा साहब अम्बेडकर के जीवन से जुडी हुई स्मृतियां को सजोने और देश वासियों में प्रेरणा जगाने का कार्य किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार गरीब कल्याण और जनोन्मुखी राजनीति को प्राथमिकता दे रही है। उज्जवला योजना, जनधन खाते, मुद्रा बैंक, स्वच्छता अभियान ने देश के गरीबों, दलितों वंचितो में विश्वास जगाया है।

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश प्रवक्ता डॉ0 चन्द्रमोहन ने बताया कि 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता ने जातिवादियों और भ्रष्टाचारियों को सबक सिखा दिया है। बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती जी की वाणी ‘सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय‘ की बात करते-करते ‘‘परिजन हिताय-परिजन सुखाय‘‘ में बदल गई। बसपा सुप्रीमो 2012, 2014 और 2017 में उत्तर प्रदेश के जनादेश से सीख नहीं ले रही है।

प्रदेश प्रवक्ता डॉ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार की काबिलियत का ही परिणाम है कि सहारनपुर घटनाक्रम के दोषियों को दंडित करने का कार्य किया है। वहीं बसपा सुप्रीमो ने सहारनपुर जाकर सामाजिक विभेद पैदा करने की भरसक कोशिश की है। सहारनपुर के दोषियों को बसपा सुप्रीमो का खुला संरक्षण मिला है।

प्रदेश प्रवक्ता डॉ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता, नेता और जनप्रतिनिधि गरीबों को समाज की मुख्यधारा में लाने को संकल्पित हैं।