निकाय चुनाव में प्रत्याशी का चेहरा नहीं बल्कि चुनाव चिह्न कमल का फूल देंखे – योगी आदित्यनाथ

बलरामपुर/लखनऊ 27 नवम्बर 2017, निकाय चुनाव में प्रत्याशी का चेहरा नहीं बल्कि चुनाव चिह्न कमल का फूल देंखे। अयोध्या की तरह ही प्रदेश के 652 नगरों को रोशन किया जाएगा। प्रदेश सरकार शीघ्र प्रदेश के 14 लाख युवाओं को नौकरी देगी। प्रदेश के सामाजिक ताने-बाने को बिगड़ने नहीं दिया जाएगा। सपा-बसपा की सरकारों में नगरों का नहीं बल्कि नगर विकास मंत्री के परिजनों व अध्यक्षों का विकास हुआ है।

यह बातें सोमवार को बलरामपुर नगर के छोटा परेड ग्राउंड में निकाय चुनाव जनसभा को संबोधित करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कही। स्थानीय निकाय अध्यक्ष की भाजपा प्रत्याशी मीना सिंह के समर्थन में आयोजित जनसभा में भारी भीड़ जुटने से मुख्यमंत्री गदगद दिखे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों का कर्जमाफ कर उनकी आय दोगुनी करने का प्रयास किया जा रहा है। पूर्व में सपा-बसपा सरकारों ने जाति-पाति व धर्म के नाम पर सामाजिक ताने-बाने को बिगाड़ने का काम किया। शहर में भाजपा की सरकार बनी तो अयोध्या की तर्ज पर सभी शहरों को एलईडी लाईट से जगमग किया जाएगा। शहरों में एलईडी स्ट्रीट लाइटें लगाकर 70 प्रतिशत बिजली की बचत की जाएगी। भू-माफियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर शहर की सरकारी जमीनों को खाली कराकर गरीबों का कल्याण किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने बलरामपुर से मीना सिंह, तुलसीपुर से शारदा देवी, पचपेड़वा से उर्मिला गुप्ता तथा उतरौला से अनूप गुप्ता को वोट व समर्थन देने की अपील की। प्रभारी मंत्री सुरेश राना, सांसद दद्दन मिश्र, विधायक पल्टूराम, राम प्रताप वर्मा, कैलाश नाथ शुक्ल, शैलेश सिंह शैलू व रामफेरन पांडेय ने कहा कि जिस तरह से सीएम की जनसभा भगवामय हो गई है उसी तरह से मतदान के दिन शहर भी भगवामय दिखेगा।