पिछली सरकारों ने पिछड़ों के नाम पर अति पिछड़ो, अति दलितों और गरीबों, वंचितों को उनके हको से वंचित रखा – योगी आदित्‍यनाथ

लखनऊ 07 अगस्त 2018, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सपा-बसपा व कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि जिन लोगों को अपने स्वयं के बंगले बनवाने, स्वयं और अपने परिवार के विकास के साथ-साथ प्रदेश के पैसों को लुटाकर विदेशों में अपनी हबेलियां और होटल बनवाने से र्फुसत नहीं थी उनसे यह उम्मीद करना कि वह अति पिछड़ो, दलितों, गरीबों के बारे में सोचेंगे, यह कोरी कल्पना होगी। उन्होंने सपा-बसपा के सरकारों की सोच को विकास विरोधी बताते हुए कहा कि आज अति पिछड़ा, दलित, गरीब व वंचित वर्ग के लोग इस सच को जान गये हैं कि उनके हितों पर डकैती डालने वाले लोग कौन थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज स्थानीय विश्वसरैया सभागार में भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा समाजिक प्रतिनिधि बैठक को संबोधित कर रहे थे।

 

उन्होंने कहा हम जाति, धर्म, मजहब को देखे बिना सबका साथ-सबका विकास की नीति पर काम करते हुए सरकारी योजनाओं का लाभ गरीबो, वंचितों, दलितों व अति पिछड़ो को मिले, इस कार्य को भाजपा की केन्द्र व प्रदेश की सरकार कर रही है। हमारी सरकार बिना भेदभाव हर व्यक्ति की सुरक्षा समृद्धि की गांरटी दे रही है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जब आमजन की सुरक्षा समृद्धि व विकास की गांरटी भाजपा की सरकारें दे रही है तो मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा का कोई विकल्प हो ही नहीं सकता।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार ने माटी कला बोर्ड का गठन करने करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि माटी कला बोर्ड कितना बड़ा काम करने जा रहा है, उसका महत्व आने वाले समय में लोगों को समझ में आयेगा। उन्होंने कहा पर्यावरण की दृष्टि से प्लास्टिक को चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधित करते हुए प्लास्टिक स्थान पर मिट्टी के कुल्हड़, कप व अन्य बर्तन आदि का उपयोग बढ़ाने व अन्य कार्यो में माटी कला बोर्ड महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों के तालाबों को प्रजापति समाज के लोगों को निःशुल्क में उपलब्ध करायेंगे वे तलाब से मिट्टी निकाल सके, ताकि माटी कला बोर्ड को हर जगह प्रमोट किया जा सके। इसके माध्यम से हम लोगों के जीवन में व्यापक परिवर्तन ला सके, उनके जीवन स्तर को उठा सके, उन्हें स्वलम्बन की ओर अग्रसर कर सके। उन्होंने कहा माटी कला बोर्ड प्रजापति समाज के लोगों के लिए रोजगार व स्वलम्बन का प्रतीक बनेगा। साथ ही गांव में हुनर कला को मंच देने का काम करेंगा।

 

उन्होंने कहा 10 अगस्त को लखनऊ में महामहिम राष्ट्रपति ‘वन डिस्ट्रिक-वन प्रोडेक्ट’ कार्यक्रम का शुभारम्भ करेंगे। यह उ0प्र0 के परम्परागत उत्पाद को प्रमोट करने की दृष्टि से बहुत बड़ा कार्य है। उन्होंने कहा प्रदेश में हम व्यापक औद्योगिकीकरण के तरफ बढ़ रहे है, क्यों कि विकास आज की अवश्यकता है। अगर हम विकास नहीं करायेंगे तो लोगों को रोजगार, नौकरी और उनके आवश्कताओं की पूर्ति उपलब्ध करा पाना कठिन होगा। लेकिन हम लोग मानते है औद्योगिकरण के साथ-साथ परम्परागत उद्योगों को भी बढ़ावा देने का आवश्यकता है। क्योंकि कम पूंजी पर ज्यादा लोगों का रोजगार, उसी लक्ष्य को ध्यान में रखकर ‘वन डिस्ट्रक-वन प्रोडेक्ट’ की योजना पर काम कर रही है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पिछले सरकारों में जिस प्रकार का ताण्डव किया था किस प्रकार से पिछड़ों के नाम पर अति पिछड़ो, अति दलितों और गरीबों, वंचितों को उनके हको से वंचित रखा, यह किसी से छिपा नहीं है। उन्होंने कहा हमारी सरकार आने के बाद हमने सर्वे कराया कि कई ऐसी जातियां है जिन्हें आजादी के बाद किसी योजना का लाभ नहीं मिल पाया। प्रदेश में 1645 गांव ऐसे थे जिन्हें कभी भी किसी योजना का लाभ नहीं मिला चाहे व सड़क, बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य हो या राशनकार्ड उन्हें कुछ नहीं मिला। हमने ऐसे गांवों को चिन्हित कर प्राथमिकता के आधार पर विकास कार्य प्रारम्भ कराकर सरकारी योजनाओं का लाभ उन तक पहुंचे इसकी पहल की। आखिर यह कार्य 15 वर्षो तक शासन करने वाली सपा-बसपा की सरकारों में भी हो सकता था लेकिन उनके मन में जब विकास की सोच होती तब तो वह ऐसा करते। सपा-बसपा की सोच विकास विरोधी रही है।

उन्होंने पिछड़ वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाये जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा किये गये फैसले के लिए उनका आभार जताते हुए कहा कि यह आयोग अति पिछड़ो की आवाज बनेगा। साथ ही तमाम योजनाओं का लाभ आसानी से अति पिछड़े वर्ग के लोगों को आसानी से मिल पायेगा।

श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में विकास की नई संभावनाये बन रही है, मार्च 2017 में प्रदेश में सरकार गठन के बाद एक लाख बीस हजार किमी सड़के गढ्ढ़ा युक्त थी, प्रदेश के केवल 4 जिलों में बिजली मिलती थी, प्रधानमंत्री आवास योजना केन्द्र सरकार द्वारा लागू किये जाने के बाद भी प्रदेश की पूर्ववर्ती सपा सरकार ने इसे लागू करने में रूचि नहीं ली। उन्होंने कहा हमने प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद 8 लाख 85 हजार आवास ग्रामीण क्षेत्रों में दिये, यही हमारी कार्यपद्धति को दर्शाता है। जबकि पिछली सपा सरकार के 5 साल कार्यकाल में मात्र 63 हजार मकान ही उपलब्ध कराये जा सके। इसी तरह विकास की अन्य योजनाओं में हमने 1 करोड़ 3 लाख शौचालय, 66 हजार मजरो का विद्युतीकरण कराने के साथ ही सौभाग्य योजना के अंर्तगत 46 लाख लोगों को बिजली का कनेक्शन दिया।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कांग्रेस की सरकारें लूटती थी एक परिवार के लिए भारत का पैसा विदेशों में जमा करते थे, सपा-बसपा की सरकारों की सोच विकास नहीं थी, गरीबों को शौचालय, स्वास्थ्य, शिक्षा, विद्युत कनेक्शन, सपा-बसपा की सरकारों के ऐजेण्डे का विषय नहीं था। लेकिन केन्द्र व प्रदेश की हमारी सरकारें जनहित में तमाम काम कर रही है। उन्होंने कहा प्रदेश में 1 करोड़ 77 लाख बच्चों को निःशुल्क यूनिफार्म व पाठ्य-पुस्तके हम उपलब्ध करा रहे है। इन सबसे साबित होता है कि वंचित, गरीब, दलित, पिछड़ों का हितैषी सही मायने में कौन है और उनके हितों पर डकैती डालने वाले कौन है।

श्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने आयुष्मान योजना को लागू करने का काम किया है। गरीब वर्ग के लोगों को 5 लाख तक के बीमा कवर का भी प्रबंध किया गया है। हम बड़े कार्य और बड़े लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ रहे है। भारत विश्व में महाशक्ति बनने की ओर तेजी से अग्रसर है, समाज को विकास की योजनाओं से जोड़ने का काम हम कर रहे है।

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि भाजपा सरकार सिर्फ कहने में नहीं बल्कि करने में विश्वास रखती है। उन्होंने कहा पिछडे वर्ग के प्रतिनिधि के रूप में आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विश्व में भारत के गौरव को बढाने का काम कर रहे है। उन्होंने कहा सबका साथ सबका विकास नीति पर काम करते हुए हम लगातार जनहित की योजनाएं ला रहे है। उन्होंने कहा प्रदेश में 15 माह के अल्पकार्यकाल में हमनें राज्य की जनता के हितों में कई काम किये हैं उन्होंने पिछड़ वर्ग के लोगों का आवाह्न करते हुए मिशन 2019 को ध्यान में रखते हुए अभी से लोकतंत्र की लड़ाई को जीतने के लिए लग जाय।

श्री मौर्य ने कहा कि आज विपक्षी दल मोदी रोको प्रतियोगिता में लगे हुए है। उन्होंने कहा मोदी जी को इसलिए रोकने के प्रयास किये जा रहे है क्योंकि वे गरीबों के लिए, पिछडों के लिए, दलितों के लिए, वंचितों के लिए व देश के लिए काम करते हैं। आज मोदी जी को इसलिए रोकने का प्रयास किया जा रहा है क्योंकि वे गरीब के जीवन में खुशहाली लाने, गांव में विकास और लोंगो का जीवन उन्नत बनाने के लिए काम कर रहे है। उन्होंने सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित लोंगो से कहा की उनकी जिम्मेदारी है कि वह 2019 के चुनाव में 73$ के लक्ष्य को पाने में अपनी भूमिका का जिम्मेदारी पूर्वक निर्वहन करे। हम उत्तर प्रदेश को देश का नम्बर वन प्रदेश बनाना चाहते है और भारत को दुनिया में नम्बर वन बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जैसे शक्तिशाली नेतृत्व की आवश्यकता है। उन्होने कहा आज विपक्षी दलों के नेताओं ने प्रधानमंत्री बनने की होड़ मची है। कांग्रेस कहती है राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेगें जो अमेठी रायबरेली का विकास नही कर सके वो देश का विकास क्या करेंगे। पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिये जाने पर माननीय प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा कि अगर सपा-बसपा और कांग्रेस में पिछड़ों दलितों व गरीबों की सेवा की होती तो जनता उनकी सेवा समाप्त नहीं करती। श्री मौर्य आवाह्न किया की राष्ट्रहित में सबको एकजुट होकर फिर से केन्द्र में नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनाने के लक्ष्य के साथ काम करना है।
इस अवसर पर पिछड़ावर्ग मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं प्रदेश के कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान, पिछड़ा वर्ग आयोग वित्त निगम के अध्यक्ष बाबू राम निषाद, प्रदेश महामंत्री एवं पिछडा वर्ग मोर्चा के प्रभारी विजय बहादुर पाठक, सहप्रभारी ब्रज बहादुर जी, कार्यक्रम संयोजक व प्रदेश मंत्री धर्मवीर प्रजापति, विधायक ब्रजेश प्रजापति सहित कई अन्य प्रमुख लोग उपस्थित थे। संचालन प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ओमप्रकाश गोला ने किया।