प्रदूषण नियंत्रण भाजपा की सोशियो पॉलिटिकल रिस्‍पॉन्सिबिलिटी – डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय

लखनऊ 02 मई 2018, भारतीय जनता पार्टी ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट पर कहा कि प्रदूषण की समस्या से निपटने की जिम्मेदारी हम सभी की है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि भाजपा प्रदूषण नियंत्रण व प्रकृति संरक्षण को अपनी सोशियों पॉलिटिकल रिस्‍पॉन्सिबिलिटी मानती है। भाजपा देश का एक मात्र राजनीतिक दल है जिसने प्रदूषण से निपटने के लिए विगत वर्ष वृहद वृक्षारोपण का कार्यक्रम चलाया और एक-एक कार्यकर्ता ने न सिर्फ वृक्ष लगाये बल्कि पालक बनकर उनकी देखरेख की जिम्मेदारी का भी निर्वहन किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का स्वच्छ भारत अभियान भी प्रदूषण नियंत्रण में कारगर साबित होगा। डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट 2016 की है उम्मीद की जा सकती है कि 2017 और 2018 की रिपोर्ट बेहतर आएगी।

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट में विश्व के सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में भारतीय शहरों के नाम चिंता का विषय है। भाजपा सोशियों पॉलिटिकल रिस्‍पॉन्सिबिलिटी के तहत प्रकृति संरक्षण, संवर्धन के साथ प्रत्येक सामाजिक जिम्मेदारी को निभाना अपना कर्तव्य मानती है। हमें प्रकृति संरक्षण के लिए पुनः भारतीय संस्कृति के शास्वत जीवन मूल्यों से भी जुड़ने की आवश्यकता है, जहां प्रकृति की उपासना और आराधना से उसके संरक्षण और संवर्धन की सामाजिक जिम्मेदारी जुड़ी है। पंच तत्वों की उपासना के भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों को जन-गण-मन की धडकन में पिरोकर ही शस्य श्यामलाम का उद्घोष हो सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने भी विश्व मंच पर पूरी दुनिया से प्रकृति संरक्षण के लिए भारतीय प्रकृति उपासना को आत्मसात करने की बात की थी। प्रत्येक राजनीतिक दल, सामाजिक दल, विद्यार्थी, शिक्षक, व्यापारी, किसान सभी को जुटकर प्रकृति संरक्षण और प्रदूषण से मुक्ति के लिए जन आन्दोलन खड़ा करना होगा। सार्वजनिक जीवन में सादगी, गंदगी दूर करने का संकल्प, उज्ज्वला योजना, शौचालयों का निर्माण एवं स्वच्छ भारत अभियान जैसे कार्यक्रम एवं योजनाएं प्रदूषण नियंत्रण में कारगर साबित होंगे।