लोक कल्याण के लिए सरकारें सदैव सोचे श्रद्धेय अटल जी की प्रतिमा ये प्ररेणा देगी – डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय

पूर्वांचल और बुंदेलखण्ड विकास बोर्ड मील का पत्थर साबित होंगे

लखनऊ 25 दिसम्बर 2018, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी जी राजनीति में शुचिता और शासन में पारदर्शिता व सुशासन के प्रतीक थे। संगठन की जो नींव श्रद्धेय अटल जी के नेतृत्व में तैयार हुई वो आज पूरी विशालता के साथ देश के हर कोने में जनसेवा में लगी है। वहीं प्रधानमंत्री रहते हुए देश के अंतिम व्यक्ति से लेकर कुटनीति, विदेश नीति और रक्षा क्षेत्र में लिए गये उनके फैसलों ने सशक्त भारत की आधारशिला रखी। इसलिए श्रद्धेय अटल जी के जन्मदिवस को सुशासन दिवस के रूप में मनाना उन्हें सच्ची श्रद्धाजंलि है। डा0 पाण्डेय आज राजधानी लखनऊ के गोसाईगंज में भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी जी जंयती पर पार्टी द्वारा मनाये जा रहे सुशासन दिवस के कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। पार्टी कार्यकर्ताओं ने आज पूरे प्रदेश में बूथ स्तर तक कार्यक्रमों का आयोजन कर सुशासन दिवस के रूप में भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी जी की जयंती को मनाया।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि भाजपा की मोदी-योगी सरकार अटल जी के सुशासन के संकल्पों को पूरी प्रतिबद्धता के साथ क्रियान्वित करने में लगी हुई है। जिस लखनऊ में अटल जी ने अपनी राजनीतिक सक्रियता और सामाजिक जीवन के कई दशकों को जिया है। लखनऊ में अटल जी की प्रतिमा स्थापित करने का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी का निर्णय बहुत ही सराहनीय है। लोकभवन में जनसेवक के रूप में बैठकर लोक कल्याण के लिए सरकारें सदैव सोचे श्रद्धेय अटल जी की प्रतिमा ये प्ररेणा देती रहेगी।

डॉ० पाण्डेय ने कहा कि अटल जी ने विकास के क्षेत्रीय असंतुलन को दूर करने के लिए उत्तराखण्ड, छत्तीसगढ़ और झारखण्ड राज्य की स्थापना की थी। उनका मानना था कि समग्र विकास के लिए क्षेत्रीय विषमता को दूर किया जाना आवश्यक है। अटल जी की इन्ही नीतियों का अमल करते हुए प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चल रही भाजपा सरकार ने पूर्वांचल विकास बोर्ड और बुंदेलखण्ड विकास बोर्ड का गठन किया है। अटल जी के बाद पूर्वांचल और बुंदेलखण्ड के संर्वागीण विकास का ईमानदार प्रयास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने ही किया। डिफेंस काॅरिडोर, प्रधानमंत्री सिचाई योजना जैसे कार्यक्रमों से जहां बुंदेलखण्ड को विकास की मुख्यधारा से जोड़ा जा रहा है। वहीं गोरखपुर में एम्स, फर्टीलाईजर कारखाने के पुनः संचालन साथ ही हजारों करोड़ के विकास योजनाओं के माध्यम से पूर्वांचल को विकास वे प्रकाश से अवलोकित किया जा रहा है। योगी सरकार ने बुंदेलखण्ड एक्सप्रेस-वे और पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के माध्यम से दोनों ही क्षेत्रों को विकास के रफ्तार से जोड़ने की और पहल की है। पूर्वांचल और बुंदेलखण्ड विकास बोर्ड इन संकल्पों केा क्रियान्वित करने और दोनों ही क्षेत्रों को प्रगति ओर समृद्धि से जोड़ने की दिशा में मील का पत्थर सिद्ध होंगे।

उन्होंने कहा कि पुरानी सरकारों ने व्यापारियों को केवल अपने की स्वार्थों के लिए जनादेश का माध्यम बनाया और उनका शोषण किया। भाजपा सरकार व्यापारियों और उपभोगताओं के हितों में समन्वय करते हुए सबके कल्याण का कार्य कर रही है। जीएसटी के माध्यम से करों के जंजाल और लाल फीताशाही से मुक्ति मिली है। सुगम व्यापार व व्यापारियों के व्यापक हितों के संरक्षण के लिए व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन करके भाजपा सरकार ने अपने घोषणा पत्र के एक और अहम वादे को पूरा किया है। हमारे लिए हमारा घोषणा पत्र वेद वाक्य की भाॅति है और इसका अक्षरशः क्रियान्वयन कर प्रदेश के हर व्यक्ति के जीवन में खुशहाली लाने के लिए हम कटिबद्ध है।

इस अवसर पर पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष सुरेश तिवारी, क्षेत्रीय महामंत्री दिनेश तिवारी, जिलाध्यक्ष राम निवास यादव सहित कई अन्य प्रमुख पार्टी पदाधिकारी व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।