लखनऊ 07 अक्टूबर 2017, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा है कि केंद्र की श्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने जीएसटी में तमाम रियासतें देकर ये साबित कर दिया है कि ये आम जनता की सरकार है और प्रधानमंत्री दिन रात देशवासियों की सेवा मैं लगे हुए हैं। प्रधानमंत्री जी ने महसूस किया कि जीएसटी को लेकर कुछ नए उपाय जरूरी हैं और इसीलिए जनहित में ये अहम फैसला लिया गया है। श्री त्रिपाठी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी हर मुद्दे पर बारीक नजर रखते हैं और यही वजह है कि जीएसटी में उन तमाम नियमों से छूट दी गई है जिनको लेकर आमजन से सुझाव हासिल हो रहे थे। इस फैसले से कारोबारी बंधुओं को तो बड़ा फायदा मिलेगा ही, आमजन और किसानों के जरूरी इस्तेमाल की तमाम वस्तुएँ भी काफी सस्ती हो जाएँगी।

प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि देश में जीएसटी लागू करने का फैसला साहसिक था, और अब छोटे कारोबारियों को रियायत देने का फैसला मानवीय फैसला है। इन फैसलों के दूरगामी नतीजे देखने को मिलेंगे और अपना देश आर्थिक शक्ति के तौर पर उभरेगा। दुनिया के तमाम देशों और आर्थिक विश्लेषकों ने जीएसटी समेत तमाम फैसलों को लेकर भारत की प्रशंसा की है, खुद विश्व बैंक ने अपनी रिपोर्ट में भारत को सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था माना है। जीएसटी को लेकर लिए गए हालिया फैसलों से कारोबारियों समेत आम लोगों को भी काफी फायदा मिलेगा।

शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि जीएसटी को लेकर माँगें गए सुझावों में ये तथ्य सामने आए थे कि कुछ नियमों को लेकर कारोबारी बंधुओं को दिक्कतें हैं और कुछ भ्रम की भी स्थिति है। ऐसे में प्रधानमंत्री जी ने फौरन ऐसे नियमों में रियायतें देने का फैसला लेकर ये संदेश दे दिया है कि ये देशवासियों के हित में देशवासियों के सहयोग से चलने वाली सरकार है। जहाँ खुद प्रधानमंत्री जी हर देशवासी के सुख-दुख की चिंता करते हैं। यही वजह है कि जीएसटी लागू करने की प्रक्रिया में गोष्ठियाँ और बैठकें कर सभी को जीएसटी से जुड़ी जानकारियाँ दी जा रही हैं। सरकार ने अधिकारियों को इस बात के निर्देश भी दिए हैं कि वे जीएसटी से जुड़े विषयों और प्रक्रिया से जुड़ी शंकाओं का अपने स्तर से समाधान करें ।