लखनऊ 24 अक्टूबर 2018, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ० चन्द्रमोहन ने पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि जरूरतमंद नौजवानों और निराश्रित महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा देना ही रामराज्य की संकल्पना का एक अंग है। इसी ध्येय को सामने रखकर प्रदेश में मुख्यमंत्री माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार अपने कामकाज की प्राथमिकता तय कर रही है। मुख्यमंत्री जी का प्रदेश की करीब चार लाख निराश्रित महिलाओं को निराश्रित पेंशन, वृद्धावस्था और किसान पेंशन देने का निर्णय एक स्वागतयोग्य कदम है। इस निर्णय से बेसहारा महिलाओं को सहारा मिलेगा और वे समाज में एक सम्मानजनक स्थान पा सकेंगी। प्रदेश में सत्ता संभालते ही भाजपा सरकार गरीबों और बेसहारा के हित में कार्य कर रही है।

प्रदेश प्रवक्ता डॉ० चन्द्रमोहन ने कहा कि इसी क्रम में प्रदेश के हर पात्र छात्र को वजीफा देने का निर्णय भी सरकार की नौजवान हितैषी सोच को जाहिर करता है। नौजवानों की सरकार के प्रति बढ़ते विश्वास का ही नतीजा है कि इस वित्तीय वर्ष में छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति योजना का लाभ लेने के लिए रिकार्ड 1.10 करोड़ छात्रों ने आवेदन किया है जबकि पहले यह संख्या 60 से 70 लाख तक ही सीमित रहती थी। इतना ही नहीं प्रदेश की भाजपा सरकार ने प्रदेश से बाहर पढ़ने वाले सामान्य वर्ग के बच्चों को भी छात्रवृत्ति और शुल्कप्रतिपूर्ति करने की योजना को पुनः बहाल कर दिया है।

प्रदेश प्रवक्ता डॉ० चन्द्रमोहन बताया कि प्रदेश में विपक्षी पार्टियों की पिछली सरकारों में छात्रवृत्ति और पेंशन योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई थीं। विपक्षी नेताओं ने छात्रों और महिलाओं को उनका हक न देकर उनके पेंशन और छात्रवृत्ति के पैसे को हड़पकर अपनी तिजोरियां भरीं। भाजपा सरकार में मुख्यमंत्री जी स्वयं इन योजनाओं की निगरानी कर रहे हैं। भ्रष्टाचार मुक्त वातावरण में भी नौजवान और महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा देने की गारंटी दी जा सकती है और इसी दिशा में भाजपा सरकार लगातार कार्य कर रही है।