लखनऊ 08 जनवरी 2019, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता हीरो बाजपेयी ने कहा कि सीबीआई जांच से सपा प्रमुख अखिलेश यादव परेशान क्यों हो रहे है? उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती द्वारा अखिलेश को न घबराने की नसीहत देना यह दर्शाता है कि भ्रष्टचारियों का यह गठबंधन महाभयबंधन है। जिसका जनता के हितो से कोई सरोकार नहीं है। संसद को जिस तरह से बाधित किया जा रहा है। जिसमें कांग्रेस भी शामिल है उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी व सोनिया गांधी समेत सारा परिवार नेशनल हेराल्ड मामले में आर्थिक अपराध के आरोप में जमानत पर है। प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि अगर सपा प्रमुख सही है तो वे जांच से भयभीत क्यों है ?

प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता हीरो बाजपेयी ने कहा कि सपा व बसपा जिस तरह से सीबीआई के दुरूपयोग का आरोप भाजपा पर लगा रही है तो वह बताए कि सपा-बसपा 10 वर्षो तक कांग्रेस की केन्द्र सरकार की बैशाखी रही तो क्या यह सीबीआई का दबाव था ? या बेमेल, नापाक व अवसरवादी व जनता के हितों की अनदेखी कर यह समर्थन दिया गया था। यह अवसरवादी व भ्रष्टाचारी व नापाक गठबंधन सिर्फ व सिर्फ देश के प्रधानमंत्री विकास के अग्रदूत नरेन्द्र मोदी जी को सत्ता से हटाने के लिए बन रहा है। परिवारवाद पर चलने वाले भ्रष्टाचारी दलो के नेताओं ने भ्रष्टाचार करके अकूत सम्पत्ति जमा की है मोदी जी की राजनीति में सुचिता के सिद्धांत से वह सभी घबराये हुए है। गेस्ट हाउस में तार-तार हुई मर्यादाओं के बाबजूद राजनीतिक अस्तित्व बचाने के लिए बुआ ने भतीजे से गठबंधन किया है।

प्रदेश प्रवक्ता हीरो बाजपेयी ने कहा कि अखिलेश यादव व मायावती जी एक दूसरे को ढाढ़स बधा रहे है और इनको कांग्रेस भी समर्थन कर रही है। श्री बाजपेयी ने कहा कि वास्तव में सपा-बसपा और कांग्रेस भ्रष्टाचार के मुद्देपर एक दूसरे में बचाव में हमेशा साथ खडे़ हुए है। आज भी वही गठबंधन फिर से नए रूप में सामने आया है। प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा सरकार साफ नियत सही विकास के संकल्प के साथ काम कर रही है।