लखनऊ 30 अक्टूबर 2018, एक दिन 3507 कैम्प, 65803 कनेक्शन यह मोदी-योगी सरकार की कार्यशैली है जो जनता के प्रति जिम्मेदारी और जबावदेही प्रदर्शित करती है। कदाचित जनहित के कार्यो के प्रति समर्पण का यह भाव सूबे की पिछली सरकारों में नदारद था। 19 माह में 80 लाख विद्युत कनेक्शन के साथ उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना में देश में प्रथम पायदान पर हैं इसी तरह चीनी उत्पादन, दुग्ध उत्पादन, व प्रधानमंत्री आवास योजना में भी प्रदेश सर्वोच्च स्थान पर है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा कि पिछली सपा-बसपा सरकारों के दौरान विभिन्न योजनाओं में निचले पायदान पर रहने वाले उत्तर प्रदेश में आज विकास का पहिया तेजी से घूम रहा है। 14-15 वर्षो से प्रतिवर्ष औसत विद्युत कनेक्शन 6.5 लाख था वहीं आज प्रतिमाह 4 लाख से ज्यादा विद्युत कनेक्शन भाजपा सरकार प्रदान कर रही है।

श्री शुक्ला ने बताया कि पिछले 19 माह में 79536 मजरों का विद्युतीकरण हुआ। 2,38,990 खराब ट्रांसफार्मर बदले गये और 14315 नए ट्रांसफार्मर स्थापित किये गए। 10631 ट्रांसफार्मर अपग्रेड किये गए। किसानों के हित में डार्क जोन में नए निजी नलकूप कनेक्शन देने पर लगे प्रतिबन्ध को हटा लिया गया, जिससे लगभग 1 लाख किसानों को सीधा फायदा होगा।

श्री शुक्ला ने कहा कि भाजपा सरकार ने विद्युत वितरण में भेदभाव को समाप्त करते हुए प्रदेश की सभी क्षेत्रों में सामान्य विद्युत आपूर्ति शेड्यूल लागू किया। जिला मुख्यालय पर 24 घंटे, तहसील मुख्यालय पर 20 घंटे और गांवो को 18 घंटे बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कर 4-5 वीआईपी जिले की अवधारणा को समाप्त कर दिया।