भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की प्रेसवार्ता पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा सपा प्रमुख अपनी व अपने पिता की सरकार का काला अध्याय लगता है भूल गए है। सपा की सरकार गुण्डों और माफियाओं की सरकार थी। श्री योगी अदित्य नाथ की भाजपा सरकार जनकल्याण के रोज नए आयाम छू रही है।

डॉ० पाण्डेय ने कहा कि भाजपा नही, सपा उद्योगपतियों की पार्टी रही है। सपा सरकार के समय की उत्तर प्रदेश विकास परिषद उद्योग पतियों के निजी हित की विकास परिषद थी। सपा ने किसानों की जमीन दादरी प्रोजेक्ट में एक उद्योग पति को कौड़ियों के मोल दे दी थी। तब सपा को किसानों की चिन्ता क्यों नही थी? जब प्रदेश की चीनी मिलें प्रदेश के उद्योगपतियों के हाथ में बेंच दी गई थी, तब किसानों की चिन्ता कहां थी। जब किसानों का गन्ने का बकाया पांच साल होने के बाद भी नहीं दिया गया तब किसानों की चिंता कहां थी?

डॉ० पाण्डेय ने कहा कि भाजपा की योगी सरकार ने किसानों के 36 हजार करोड़ रूपयों के ऋण माफ सरकार बनते ही अपने पहले कैबिनेट में किया। हमनें फसलों का उचित दाम दिया। गन्ने का पांच साल का बकाया भुगतान किया तथा किसानों के हित में कई बडे़ फैसलें किये। सपा मुखिया अपनी सरकार में किसानों के हित में लिए गए फैसले बतायें?

डॉ० पाण्डेय ने कहा कि अपराधियों पर योगी सरकार ने शिकंजा कसा है। संगठित अपराध की कमर तोड दी है। प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियत्रंण में है। जबकि सपा सरकार के कार्यकाल में पुलिस थाने सपाई चलाते थे। सपा सरकार के 6 महीने में 422 बार पुलिस पिटी थी। प्रतापगढ में सीओ जियाऊल हक की हत्या, बिजनौर में एनआईए के सीओ तंजील अहमद व उनकी पत्नी की हत्या, मथुरा के जवाहर बाग काण्ड में एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी की हत्या, थाना अध्यक्ष संतोष राय की हत्या, लखनऊ में सीओ राजेश सहानी को जीप के बोनट पर बांधकर घुमाने की घटना सपा सरकार में ही हुई थी।

डॉ० पाण्डेय ने कहा कि 2019 में केन्द्र में भाजपा और एनडीए ही भारी बहुमत से सरकार बनाएगी। सपा समर्थित सरकार बनाने का सपना अखिलेश का मुंगेरी लाल का हसीन सपना है। सपा इस बार पिछली सदस्य संख्या तक भी नहीं पहुंच पायेगी।

डॉ० पाण्डेय ने एफडीई पर कहा कि भाजपा सरकार में एफडीआई से वरोजगारी बढी यह सपा प्रमुख का ही ज्ञान हो सकता है। एफडीआई और जीएसटी के कारण केन्द्र की भाजपा सरकार ने विकास के नए पैमाने तय किये है।

प्रदेश अध्यक्ष डॉ० पाण्डेय ने कहा गाजीपुर में प्रधानमंत्री मोदी की सफलतम रैली से कुछ तत्व विचलित हो गए है। गाजीपुर पूर्वांचल का एक बड़ा गढ है। रैली के उपरान्त पुलिस पर हमलें में षड़यंत्र की गंध आ रही है। जांच के उपरान्त ही स्थिति स्पष्ट होगी।