भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित की जा रही समाजिक प्रतिनिधि बैठक में दूसरे दिन उपस्थित प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजा सुहेलदेव का जिक्र करते हुए कहा कि इन महापुरूषों ने देश-धर्म की रक्षा के लिए जो अपना योगदान दिया वो वर्तमान व आने वाली पीढ़ी के लिए अनुकरणीय है। उन्होंने कहा भारत की अखण्डता को अक्षुण बनाये रखने का काम जिस महापुरूष ने किया था, उस महापुरूष का नाम है महाराजा सुहेलदेव। इसलिए उनके नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर भारतीय का दायित्व बनता है जिसे भारत की एकता और अखण्डता और सुरक्षा प्यारी है। एक बहुत बड़ा कार्य हुआ था उस काल खण्ड में लभगभ डेढ़ सौ वर्षो तक कोई विदेशी आंक्रान्ता भारत पर हमला करने का साहस नहीं जुटा पाया था। लेकिन इतिहास के पन्ने में महाराज सुहेलदेव का नाम नहीं आने दिया गया। उस समय षड़यन्त्रों का परिणाम रहा कि हम अपने महापुरूषों को भूल गये, बहराइच के चितौरा का जिक्र करते हुए कहा कि चितौर की माटी आज भी राजा सुहेलदेव के सौर और पराक्रम की गाथा गाते है। लेकिन इस गाथा का देश स्मरण कर सके इसका प्रयास नहीं हुआ। यह प्रयास तब हुआ जब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी ने उस स्थान पर जाकर राजा सुहेलदेव की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में सम्मलित हुए। राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम भाजपा के द्वारा ही किया गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महाराजा सुहेलदेव को अपना आर्दश मानने वाले लोगों को सचेत करते हुए कहा कि जो लोग इस देश के अंदर महमूद गजनवी और मोहम्मद गौरी को अपना आर्दश मानते है, उन्हें पहचानना होगा, हमे तय करना होगा इस देश की व्यवस्था राजा सुहेलदेव के तर्ज पर संचालित होगी। मोहम्मद गौरी-मोहम्मद तुगलक के तर्ज पर नहीं। उन्होंने कहा कि चितौरा नामक स्थान पर एक भव्य स्मारक का निर्माण होना चाहिए। एक ऐसा स्मारक होना चाहिए जिससे भारत की भावी पीढ़ी प्रेरणा लेती रहे। उन्होंने कहा महाराजा सुहेलदेव राष्ट्रीय महापुरूष थे। उनका योगदान पूरे समाज के लिए था, पूरे राष्ट्र के लिए था, और इसलिए उन महापुरूष के प्रति सम्मान व्यक्त करना हम सबका दायित्व बनता है। इसके लिए भव्य स्मारक निर्माण के लिए सरकार पहल करेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया है। वास्तव में यह एक बड़ा सम्मान है इस देश की पिछड़ी अति पिछड़ी जाति के करोड़ों लोगो के लिए जो अब तक अपने हक के लिए अपने संवैधानिक अधिकार के लिए संघर्ष तो करते थे लेकिन कांग्रेस और उसके सहयोगी सपा-बसपा ने उन्हें आगे बढ़ाने का कार्य नहीं किया। उन्होंने कहा कि आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया जाना पिछड़ो अति पिछड़ो की बहुत बडी जीत है। हम सबको प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का आभार व्यक्त करना चाहिए। जिन्होंने इस देश के गरीबों, वंचितों, अति पिछड़ों को उनका हक दिलाने के लिए अभूतपूर्व कार्य किया है।

श्री योगी आदित्यनाथ जी ने छात्रवृत्ति को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश के अंदर वर्ष 2015-16 में लगभग 1 लाख 25 हजार बच्चों को छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति की गई। वर्ष 2016-17 में कोई भी राशि सरकार द्वारा अवमुक्त नहीं की गई। विगत वर्ष 2017-18 में जब हमारी सरकार आयी हम लोगों ने 2016-17 और 2017-18 इन दोनों वर्षो की शुल्क प्रतिपूर्ति और छात्रवृत्ति 35 लाख छात्रों को एक मुश्त दी और शेष लोगों के लिए यह व्यवस्था की कि जो बच्चे छूटे है उनको भी लाभ मिले उसके लिए हम लोगों ने बजट की धनराशि 15 सौ करोड़ से बढ़ाकर 2 हजार करोड़ कर दी। वे सभी मेघावी छात्र जो अभी तक छात्रवृत्ति से वंचित होते थे। उन्हें इसका लाभ मिले हम इसका प्रयास कर रहे है। प्रदेश के बेसिक स्कूलों में पढ़ने वाले 1 करोड़ 77 लाख बच्चों को स्कूल डेªस और पाठ्य पुस्तके उपलब्ध कराने की व्यवस्था हमने की है।

मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश सरकार द्वारा जनहित में चलाई जा रही तमाम कल्याणकारी योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री आवास योजना, सौभाग्य योजना के अन्तर्गत विद्युत कनेक्शन सहित कई अन्य योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि हमारी सरकार ने समाज के सभी वर्गो के कल्याण के लिए काम करने का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा हम राष्ट्र के स्वाभिमान और सम्मान के साथ किसी को भी खिलवाड़ करने की छूट नहीं दे सकते। उन्होंने सबको आहवान किया कि वे अपने-अपने समाज में जाकर कहे कि जो लोग कश्मीर की स्वायत्तता की बात करते है, नक्सलवाद का समर्थन करते है, भारत की विभाजन की बात करते है, जो लोग भारत के देवी-देवाताओं को अपमानित करते है, महापुरूषों का अपमान करते है, उन लोगों के बहकावे में आ करके सामाजिक ताने-बाने को छिन्न-भिन्न करके इस राष्ट्र की एकता अखण्डता को छिन्न-भिन्न करने के लिए छूट किसी को नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि देश सुरक्षित होगा तो समाज के सभी जाति वर्ग के लोग सुरक्षित होगे। भारत की एकता, सुरक्षा, समृद्धि हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत का विश्व में सम्मान बढ़ा है। गांव, गरीब, किसान, पिछड़ा अति पिछड़ा दलित समाज के सभी वर्ग के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार काम कर रही है।

इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि जब मोदी जी को भाजपा ने प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया, उनके अगुवाई में चुनाव लड़ने का निश्चय किया उस समय जिन लोगों ने सबसे आगे आकर मोदी जी के विजय रथ का स्वागत किया, उनमें पिछड़े वर्ग के लोगों ने सबसे आगे आकर अगुवाई की। उन्होंने कहा 2017 के चुनाव में रिकार्ड 325 सीटें जीतने में पिछड़े वर्ग खासकर राजभर समाज के लोगों का विशेष योगदान रहा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के आंखों में पिछड़ी अति पिछड़ी जातियां हमेशा चुभती रही है। कयोंकि इन जातियों ने हमेशा अन्याय के खिलाफ आवाज बुलंद की। देश की सत्ता में आते ही कांग्रेस ने जिस तरह सांमती मानसिकता से 1947 के बाद से 1966 तक राज चलाया। उस समय जब पंडित दीनदयाल उपाध्याय, नानाजी देखमुख और राममनोहर लोहिया जैसे लोगों ने मिल करके इस उत्तर भारत परिवर्तन की लहर बनाई और 1967 में देश के 8 राज्यों में बेदखल हुई उसमें भी पिछड़े वर्ग के लोगों के साथ राजभर समाज ने अग्रणी भूमिका निभाई। यही वजह है कि कांग्रेस ने जनता की मांग के बावजूद ओबीसी को आरक्षण देने का मुद्दा हुआ तो मण्डल कमेटी तो बनाई लेकिन लागू करने की कोशिश कभी दिल से नहीं की। लागू हुआ तो तभी जब भाजपा की समर्थन से दिल्ली में सरकार चल रही थी।

डॉ० पाण्डेय ने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का अभिनंदन करते है कि जो संवैधानिक आरक्षण पिछड़े समाज को मिला उसे लागू करने का काम केन्द्र की मोदी सरकार ने किया। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी का यह मानना है कि पिछड़े वर्ग के लोगों ने जिन्होंने हमे इतनी ताकत दी, उसके लिए हम केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा कई योजनाएं को लागू कर उनकी प्रगति की दिशा में कदम उठाये है। उन्होंने कहा शौचालय, बिजली, आवास की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए हम भाजपा सरकारें गंभीरतापूर्वक काम कर रही है। हम 2022 तक सबको आवास मुहैया कराने के लिए संकल्पबद्ध है। हमने उज्जवला योजना के अंतर्गत महिलाओं को 8 करोड़ गैस के कनेक्शन दिये है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा समाज के सभी वर्गो खासकर गरीबों, पिछड़ो के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए भाजपा की सरकारें काम कर रही है। उन्होने कहा कि आज दो तरह के हिन्दुस्तान बन गया है जिसमें बीच में खड़े है नरेन्द्र मोदी और देश के 19 राज्यों के भाजपा के मुख्यमंत्री जो यह सोचते है कि पश्चिमी भारत की तरह पूर्वी भारत भी हो जाये। ताकि एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में भारत आगे बढ़े। भाजपा सरकारें जन कल्याण के लिए जो काम कर रही है वो विपक्ष की आंखों में चुभ रहा है क्‍योंकि वो सत्ता को अपने आंनद मंगल का साधन मानते है। आज उनका सत्ता सुख समाप्त हो गया है, क्योंकि अब सत्ता कर्मयोगी नरेन्द्र मोदी और योगी आदित्यनाथ जैसे संतो के हाथ में है। आज मोदी-योगी के संग हर समाज वर्ग का व्यक्ति खड़ा है। आज मोदी को रोकने के लिए विपक्षी बाधाएं खड़ी कर रहे हैै। उन्हें राष्ट्रवादी लोग स्वीकार नहीं है लेकिन बांग्लादेशी घुसपैठी स्वीकार है। उन्होंने अपील की कि 2014 और 2017 में जिस तरह से आपने हमें ताकत दी उससे आगे बढ़कर 2019 में हमें ताकत देनी होगी। ताकि भारत को हम विश्व में एक समृद्धिशाली-शक्तिशाली देश के रूप में पहचान दिला सके।

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव के वंशज आज भाजपा के साथ जुड़कर देश को आगे ले जाने के लिए काम कर रहे है। उन्होंने कहा भारतीय जनता पार्टी गरीबों, दलितों, पिछड़ों को सम्मान देने वाली पार्टी है। मेरे जैसे किसान परिवार के बेटे को उपमुख्यमंत्री बनाने का काम भाजपा ने ही किया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी के मन में जो सम्मान राजा सुहेलदेव के प्रति नजर आया मुझे अभिभूत कर गया।

उन्होंने कहा महाराजा सुहेलदेव जैसे महापुरूषों के कारण ही आज हिन्दुस्तान हिन्दुस्तान है। पिछड़ा वर्ग आयोग की चर्चा हो रही है आखिर मैं पूछना चाहता हूँ कि देश में कांग्रेस और उनके सहयोगियो ने पिछड़े वर्ग की चिंता क्यों नहीं की। श्री मौर्य ने कहा कि कांग्रेस-सपा-बसपा की सरकारों ने कभी भी पिछड़े वर्ग की चिंता नहीं की। लेकिन केन्द्र सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देकर के जो काम किया है उसके लिए हम प्रधानमंत्री जी का अभिनंदन करते है।

श्री मौर्य ने बसपा सुप्रीमों मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग अपनी तिजोरी भरने में ही लगे रहते थे आज वो पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन का स्वागत कर रहे है। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख बताये कि उन्होंने कभी अपनी तिजोरी भरने की बजाय पिछड़ों-दलितों की चिंता की है। अगड़ा-पिछड़ा-दलित सहित समाज के सभी वर्गो व विकास की विरोधी शक्तियां आज एकजुट होकर मोदी रोको अभियान में लगी है। इसके लिए सपा-बसपा-कांग्रेस जैसे दल गठबंधन बना रहे है। लेकिन ये विपक्षी चाहे जितने गठबधंन बना ले लेकिन वो अपने मनसूबों में सफल नहीं हो पायेंगे। उन्होंने 2019 में 2014 से भी अधिक सीटों पर भाजपा को विजयी बनाकर हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथों में देश का नेतृत्व पुनः सौपने के लिए काम करना होगा। श्री मौर्य ने कहा हिन्दुस्तान को विश्व में नम्बर एक बनाने का काम नरेन्द्र मोदी जी ही कर सकते है। इसलिए मैं आपका आहवाहन करना चाहता हॅू कि 2019 के चुनाव में आपके पास तमाम लोग, दल पार्टियां आयेगी, उनके बहकावे में ना आकर उनसे पूछियेगा कि आखिर इतने वर्षो तक सत्ता में रहने के बावजूद तुमने हमारे लिए क्या किया, उनसे कहियेगा कि मोदी जी की सरकार ने सबका साथ-सबका विकास की नीत पर काम करते हुए जनकल्याण का काम किया है, इसलिए हम उनके साथ खड़े है।

इस अवसर पर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम के अध्यक्ष बाबूराम निषाद, समाज कल्याण निगम के अध्यक्ष बीएल वर्मा, प्रदेश महामंत्री एवं पिछड़ा वर्ग मोर्चे के प्रभारी विजय बहादुर पाठक, सह प्रभारी ब्रज बहादुर सहित कई अन्य प्रमुख लोग उपस्थित रहे।