भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने आज कहा कि आगामी लोकसभा के चुनाव में विजय के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को ‘‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’’ को विजय मंत्र मानकर काम करना होगा। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से गांव, गरीब, किसान और नौजवानों सहित समाज के सभी वर्गो के कल्याण और देश के चहुमुखी विकास के लिए जितनी योजनाएं मोदी सरकार लेकर आई उतनी पहले कभी नहीं आई। डॉ० पाण्डेय आज गोण्डा में बलरामपुर/श्रावस्ती और बहराइच व गोण्डा की लोकसभा संचालन समिति की बैठक में उपस्थित पार्टी पदाधिकारियों व वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार और प्रदेश की योगी सरकार द्वारा शुरू की गई लोककल्याण की योजनाओं से लाभांवित हुए लाभार्थियों से कार्यकर्ता संपर्क संवाद स्थापित करने का काम करें। उन्होंने कहा सपा-बसपा की सरकारों में किसानों का जमकर उत्पीड़न हुआ। पूर्ववर्ती सपा-बसपा के शासनकाल में कभी भी किसानों की गेहूँ, धान सहित अन्य फसलों का क्रय नहीं किया गया। लेकिन वर्तमान प्रदेश सरकार ने फसल आने से पहले जगह-जगह क्रय केन्द्र खोल दिए ताकि किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य मिल सके।

डॉ० पाण्डेय ने पार्टी द्वारा चलाये जा रहे सदस्यता अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि मोदी-योगी की सरकारों द्वारा किये गये जनकल्याण के कार्यो से समाज के सभी वर्गो में पार्टी की लोकप्रियता बढ़ी हैं। ऐसे में हम सब पार्टी कार्यकर्ताओं का भी यह दायित्व बनता है कि सदस्यता अभियान के दौरान बूथ स्तर पर समाज के सभी वर्गो और जाति के लोगों को पार्टी का सदस्य बनाकर उन्हें संगठन की मुख्यधारा में सक्रिय करने का काम करें। साथ ही मतदाता पुर्नरीक्षण अभियान के तहत कार्यकर्ता पूरी लगन के साथ नये मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जुड़वाने के लिए योजनापूर्वक काम में जुट जाये।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने आगामी संगठनात्मक कार्यक्रमों की चर्चा करते हुए कहा कि गांव संपर्क अभियान पिछड़ा वर्ग मोर्चा की बैठके और सभी मोर्चो की प्रदेश कार्यसमिति की बैठको सहित कई अन्य संगठनात्मक होने है। संगठनात्मक कार्यक्रमों और योजनाओं को सफल बनाने के लिए सभी को योजनापूर्वक कार्य करना होगा।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आज पूरा विपक्ष अपना अस्तित्व बचाने के लिए एकजुट होकर महागठबंधन बना रहा है ताकि सत्ता में आकर अपने व्यक्तिगत स्वार्थो की पूर्ति कर सके। लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं को इनसें घबराने की जरूरत नहीं है जनता भाजपा के साथ है। भाजपा कार्यकर्ताओं का मतदाताओं और जनता से सीधा संपर्क और संवाद पार्टी को एक बार फिर से अभूतपूर्व जीत दिलाने का मार्ग प्रशस्त करेंगा।

प्रदेश उपाध्यक्ष व अवध क्षेत्र के प्रभारी जे.पी.एस. राठौर ने कहा कि प्रदेश में ऐसे 5200000 मतदाताओं को चिन्हित किया गया है जिनका नाम मतदाता सूची में होना चाहिए था परंतु अभी सूची में अंकित नहीं हो पाया है अतः पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ता बूथ समिति पुनर्गठन, मतदाता सूची पुनरीक्षण, के साथ ही साथ प्रत्येक बूथों पर कम से कम 50 की संख्या में नए सदस्य बनाएं। उन्होंने कहा कि बूथ समितियों की बैठकों में भी उस क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को जाना चाहिए इससे पार्टी के कार्यकर्ताओं का हौसला अफजाई के साथ ही साथ पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मान भी बढ़ता है। प्रदेश उपाध्यक्ष ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि कांग्रेस ने महात्मा गांधी से गांधी शब्द चुरा कर उसका राजनीतिक लाभ तो लिया परंतु उसने आज तक ना तो गांधी जी का सम्मान किया और ना ही उनके विचारों का आदर किया। गांधी जी, सरदार वल्लभ भाई पटेल सहित डॉक्टर भीमराव अंबेडकर और देश के ऐसे तमाम महापुरुषों को अगर किसी ने सही मायनों में सम्मान देने का कार्य किया है तो वह भारतीय जनता पार्टी ही है।

बैठक में प्रमुख रूप से क्षेत्रीय अध्यक्ष सुरेश चंद तिवारी, क्षेत्रीय संगठन महामंत्री प्रद्युमन जी, पार्टी के प्रदेश मंत्री व गोंडा जिला संगठन प्रभारी अनूप गुप्त, प्रदेश मंत्री संतोष सिंह, प्रदेश अनुशासन समिति के अध्यक्ष सत्यदेव सिंह, गोंडा जिला अध्यक्ष पियूष मिश्रा, बलरामपुर जिला अध्यक्ष राकेश सिंह, बहराइच जिला अध्यक्ष टेकरीवाल, समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री, कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह गोंडा सांसद कीर्तिवर्धन सिंह राजा भैया श्रावस्ती बलरामपुर सांसद दद्दन मिश्र प्रदेश संयोजक चुनाव प्रकोष्ठ अशोक द्विवेदी, पूर्व सांसद जुगल किशोर, विधायकगण प्रेम नारायण पांडे, प्रभात वर्मा, बावन सिंह, सुभाष त्रिपाठी, रामप्रताप वर्मा, पलटू राम, शैलेश सिंह शैलू, कैलाश नाथ शुक्ला, राम फेरन पांडे, माधुरी वर्मा, लोकेंद्र सिंह, अंजू सिंह, मधुबाला वर्मा, हंसराज सिंह, दीपक गुप्ता जटाशंकर मिश्रा, अनुपम प्रकाश मिश्र सहित सभी मोर्चा के अध्यक्ष गण प्रकोष्ठ के संयोजक गण और विभागों के संयोजक की भी उपस्थिति रहे।