भारतीय जनता पार्टी ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि गोरखपुर उपचुनाव में भाजपा केंद्र सरकार के पांच और योगी सरकार के दो बजटों का हिसाब मांगेगी। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने सोमवार को यहां कहा कि जनता ने सपा को उसके कार्यकाल के दौरान पेश किए गए बजट का जवाब दे दिया है। सपा के काले कारनामों का जवाब उत्तर प्रदेश की जनता ने पहले लोकसभा चुनाव में फिर विधानसभा चुनाव और अब नगर निकायों के चुनाव में जवाब दिया है। लगता है यादव जनता के उस जवाब को भूल गए हैं। अखिलेश यादव को जनता गोरखपुर ही नहीं फूलपुर संसदीय क्षेत्र के उपचुनाव में भी जवाब देने जा रही है। उन्हें भाजपा की चिंता करने के बजाए अपनी चिंता करनी चाहिए। जनता अब उन्हें दोबारा लूट-खसोट करने का मौका नहीं देगी।

श्री शुक्ल ने कहा कि अखिलेश यादव सरकार में उत्तर प्रदेश की स्थिति बहुत ही खराब थी। अपराध क्षेत्र में उत्तर प्रदेश नंबर वन, विकास और शिक्षा के क्षेत्र में, स्वच्छता के क्षेत्र में निचले पायदान पर उत्तर प्रदेश खड़ा रहा। आम जन का जीना दुश्वार हो गया था। यही वजह है कि उत्तर प्रदेश की जनता ने उन्हें इन तीनों चुनाव में जवाब दिया है। सच्चाई तो यह है अखिलेश यादव को योगी सरकार की उपलब्धियों से जलन हो रही है। योगी सरकार में उत्तर प्रदेश एक बार फिर अपनी सांस्कृतिक विरासत को आगे बढ़ाने में सफल हो रहा है। अयोध्या में भव्य दिवाली का आयोजन किया गया। उस दृश्य को देखकर लोग ऐसा अनुभूत कर पाए कि शायद इसी प्रकार से त्रेता युग में भगवान राम के लंका विजय के बाद अयोध्या पहुंचने पर ऐसी ही दीपावली मनाई गई होगी। अब इसके बाद योगी सरकार में भगवान श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा वृंदावन में भी होलिकोत्सव मनाया जाएगा। होलिकोत्सव की तैयारी हो गई है।

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि योगी सरकार में नकल माफियाओं पर नकेल कसा गया है। मेधावी छात्र छात्राएं और उनके अभिभावक नकल रोके जाने से खुश हैं। सरकार की नकल विहीन परीक्षा कराने की मंशा उत्तर प्रदेश के युवाओं को आगे ले जाने के लिए है। उत्तर प्रदेश के युवा जिस भी क्षेत्र में जाएंगे अपने परिवार का अपना तो नाम रोशन करेंगे ही साथ में उत्तर प्रदेश को भी गौरवान्वित करेंगे। इसलिए आवश्यक है की शिक्षण व्यवस्था बेहतर हो। शिक्षकों की भर्ती कर उत्तर प्रदेश की सरकार शिक्षण कार्य और बेहतर करने जा रही है।

प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ल ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार ने अपराधियों पर भी नकेल कसने का काम किया है। अपराधी उत्तर प्रदेश छोड़ कर जा रहे हैं या फिर वे जेल में पहुंचा दिए गए हैं। अपराधिक घटनाओं की कमी के चलते निवेशकों का आना तय माना जा रहा है। इन्वेस्टर्स समिट में देशभर के उद्योगपतियों ने पंजीकरण कराया है। बड़ी संख्या में उद्योगपति उत्तर प्रदेश में पहली बार इस प्रकार से निवेश करने की इच्छा व्यक्त कर रहे हैं। बड़े बड़े उद्योगपतियों ने भी कहा है कि योगी सरकार में उन्हें कोई दिक्कत नहीं। योगी सरकार में अच्छा ही होगा। केंद्र की मोदी सरकार राज्य की योगी सरकार मिलकर उत्तर प्रदेश को बढ़ाने का काम कर रही हैं । यह जनता बखूबी देख रही है। गांव और गरीब की सरकार है या पहली बार महसूस हो रहा है लोगों को। अब सपा को यही डर सता रहा है कि योगी सरकार में इस प्रकार से उत्तर प्रदेश का विकास होगा तो उनकी राजनीति खत्म हो जाएगी। इसलिए सपा अध्यक्ष अखिलेश को भाजपा की चिंता करने के बजाए अपनी चिंता करनी चाहिए।