भारतीय जनता पार्टी के राज्य मुख्यालय पर आज लोक नायक जय प्रकाश नारायण और नाना जी देशमुख की जंयती पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र शुक्ला ने कहा कि जनसंघ के संस्थापक नानाजी देशमुख ने अपना जीवन वंचितो और शोषितो के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया। नाना जी ने राष्ट्रहित में अपना जीवन समर्पित कर सेवा, ग्राम विकास और सामाजिक समरस्ता को जनसेवा का एक सशक्त माध्यम बनाया।

श्री शुक्ला ने सम्पूर्ण क्रांति आंदोलन के पुरोधा लोक नायक जय प्रकाश नारायण को उनकी जंयती पर श्रद्धाजंलि अर्पित करने हुए कहा कि लोकतंत्र की हत्या करने वाली तानाशाही ताकतो के खिलाफ जे.पी. जी की हुंकार ने सत्तारूढ़ सिंघासन को ही पलट दिया।

प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर ने नाना जी देशमुख को राष्ट्र संत बताते हुए उन्हें अपनी श्रद्धाजंलि अर्पित की। उन्होंने प्रखर राष्ट्रवादी, महान समाजसेवी नानाजी देशमुख अपने प्यार समर्पण से न सिर्फ असख्य कार्यकर्ताओं बल्कि आमजन के भी प्रेरणास्रोत है। उन्होंने कहा नाना जी ने ग्रामउत्थान के लिए अंतिम सांस तक कार्य किया। उन्होंने लोक नायक जय प्रकाश नारायण को श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए कहा कि आपातकाल के समय भारतीय लोकतंत्र की नींव को बचाने व उसे मजबूत करने का जो साहस जय प्रकाश नाराण जी ने दिखाया उसे आज भी भारतीय जनमानस याद करता है। उन्होंने कहा कि जय प्रकाश नारायण जी त्याग और बलिदान का जीता जागता उदाहरण थे, राष्ट्र के प्रति उनका समर्पण व सेवा हमे सदैव प्रेरणा देता रहेगा।

मुख्यालय प्रभारी भारत दीक्षित ने कहा कि एकात्म मानववाद को अपने जीवन में उतारकर जीवन भर सामाजिक समरसता के लिए नाना जी देशमुख काम करते रहे। उन्होंने राष्ट्र के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया तथा आपातकाल के विरूद्ध भी संघर्ष करते रहे। उन्होंने कहा कि पद्म विभूषण नाना जी के ग्रामोदय क मतलब राष्ट्रोदय, सामाजिक समरसता का मतलब अन्तिम व्यक्ति के उत्थान के लिए सोचना व राष्ट्रवादी विचारों से ओत-प्रोत होकर राष्ट्र के निर्माण में भागीदारी नाना जी का कृतित्व हम सब के लिए प्रेरणादायक है।

इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष अक्षयवर लाल गौड़, प्रदेश प्रवक्ता डॉ० चन्द्रमोहन, मीडिया संपर्क विभाग के प्रदेश सह संयोजक राकेश त्रिपाठी, मुख्यालय प्रभारी भारत दीक्षित, मुख्यालय सह प्रभारी चौधरी लक्ष्मण सिंह, संगठन मंत्री अशोक तिवारी, शिव कुमार पाठक, कमल ज्योति के प्रबंधन सम्पादक राजकुमार, विधायक डॉ० अरूण सक्सेना व ज्ञान तिवारी एवं कुमार अशोक पाण्डेय सहित कई अन्य पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।